भारत के प्रमुख जलप्रपात [Major waterfalls of India]

आज हम इस पृष्ठ पर आपके लिए भारत के प्रमुख जलप्रपात के बारें में महत्वपूर्ण जानकारी लेकर आए हैं।भारत के प्रमुख जलप्रपात से कई बार परीक्षा में सवाल पूछे जाते हैं।  अतः आपको इससे सम्बंधित सम्पूर्ण जानकारी जो आने वाली सभी परीक्षाओ के लिए महत्वपूर्ण हैं इस पृष्ठ पर उपलब्ध हैं। जिससे आप परीक्षा के लिए अपनी तैयारी को और मजबूत कर सके तथा अपने माता-पिता का सपना पूरा कर सके। 

भारत-के-प्रमुख-जलप्रपात
भारत-के-प्रमुख-जलप्रपात

सरकारी परीक्षा की तैयारी के लिए GK महत्वपूर्ण भाग होता हैं। और GK की संपूर्ण तैयारी आप हमारे साथ जुड़े रहे। यहाँ आपको GK के सभी टॉपिक के महत्वपूर्ण सवाल मिलेंगे जो सभी परीक्षाओ के लिए उपयोगी साबित होंगे तथा अधिकतम सवाल आपको यही से मिलेंगे।

सभी परीक्षाओ जैसे UPSC, SSC, IAS, Railway-RRB, UPPSC, UKPSC, TNPSC, MPPSC और बैंकिंग परीक्षाओं SBI Clerk, SBI PO, IBPS Clerk, IBPS PO, RRB, RBI,अन्य राज्य सरकारी  नौकरियों / परीक्षाओं के लिए GK से सम्बंधित महत्वपूर्ण सवाल जो सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए हमारे विशेषज्ञों द्वारा तैयार किए गए हैं। जो तैयारी को मजबूत करेंगे। 

आज इस पृष्ठ पर हम GK का एक महत्वपूर्ण भाग भारत के प्रमुख जलप्रपात  के सवाल पढ़ेंगे। भारत के प्रमुख जलप्रपात  से सभी परीक्षाओं में कम-से-कम 1-2  सवाल आते ही हैं।  अतः आप आने वाली परीक्षा के लिए भारत के प्रमुख जलप्रपात के सवाल यहा से पढ़ ले इसके बाद कही और पढ़ने की आपको आवश्यकता नहीं पड़ेगी। 

यहाँ हमने सभी भारत के प्रमुख जलप्रपात के सवाल एक जगह एकत्रित किये हैं जिससे आपको इधर-उधर भटकना नहीं पड़े और आप अपनी तैयारी को सही समय दे सके और आपका कीमती समय भारत के प्रमुख जलप्रपात के सवालो को खोजने/ ढूंढने में व्यर्थ नहीं हो। 

Join us on Telegram:- Join Link


    भारत के प्रमुख जलप्रपात :- जलप्रपात क्या होते हैं ?

    जलप्रपात क्या होते हैं ?

    भारत-के-प्रमुख-जलप्रपात
    भारत-के-प्रमुख-जलप्रपात

    जलप्रपात या झरना नदी के उच्च स्थान से निम्न स्थान पर अचानक गिरने से बनने वाले द्रश्य को कहते हैं।  नदी जब पहाड़ो से सीधे किसी गड्डे या खाई में गिरती हैं इस प्रकार बनने वाले जल के प्रवाह को जलप्रपात कहते हैं। 

    जलप्रपातों के प्रकार :-
    1. खण्डक (Block)
    2. सोपानी (Cascade)
    3. महाजलप्रपात (Cataract)
    4. ढालू (Chute)
    5. पंखा (Fan)
    6. हिमाद्रि (Frozen)
    7. खरदुम (Horsetail)
    8. गोता (Plunge)
    9. खरल (Punchbowl)
    10. विभक्त (Segmented)
    11. पांतिक (Tiered)
    12. बहु-चरणी (Multi-step)
    13. कैटाडूपा (Catadupa)

    जलप्रपात कैसे बनते हैं ?

    जलप्रपात तब बनते हैं जब नदी पहाड़ो से बहती हुई आगे जाकर किसी गहरे खड्डे या गड्डे में जाकर गिरती हैं। तब जलप्रपात बनते है। 


    भारत के प्रमुख जलप्रपात 

    चित्रकूट जलप्रपात – 

    चित्रकूट जलप्रपात छत्तीसगढ़ राज्य के बस्तर जिले में इंद्रावती नदी पर स्थित है। यह भारत का न्याग्रा प्रपात नाम से भी जाना जाता है। इसकी ऊंचाई लगभग 90 फुट है। छत्तीसगढ़ के जिले जगदलपुर से लगभग 40 किलोमीटर दुरी पर हैं। 

    चित्रकूट जलप्रपात का आकार घोड़े की नाल के समान होने के कारण चित्रकूट जलप्रपात को भारत का नियाग्रा भी कहते हैं। चित्रकूट जलप्रपात कांगेर घाटी राष्ट्रीय उद्यान के पास स्थित हैं। 

    भारत-के-प्रमुख-जलप्रपात
    भारत-के-प्रमुख-जलप्रपात

    येन्ना जलप्रपात – 

    येन्ना जलप्रपात मध्यप्रदेश के महावलेश्वर में स्थित हैं। येन्ना जलप्रपात नर्मदा नदी पर स्थित हैं। 
    येन्ना जलप्रपात की ऊँचाई लगभग 183 मीटर है।

    महात्मा गांधी या जोग गेरसप्पा जलप्रपात – 

    यह भारत का सबसे ऊँचा जलप्रपात है जो कि कर्नाटक राज्य में शरवती नदी पर स्थित है । इस जलप्रपात की ऊँचाई 255 मीटर है। जोग/ गेरसप्पा जलप्रपात 4 छोटे छोटे प्रपातो से मिलकर बना हैं।  ये 4 प्रपात निम्न हैं , राजा, राकेट, रोरर और रानी। जोग/ गेरसप्पा जलप्रपात बहुत ऊचाई से गिरने के कारण बहुत सुन्दर एवं मनमोहक दृश्य बनाता हैं। 

    जोग/ गेरसप्पा जलप्रपात कर्नाटक तथा महाराष्ट्र की सीमा पर स्थित शिवमोगा जिले के पास स्थित हैं। इस स्थान पर कर्नाटक व महाराष्ट्र दोनों राज्यों द्वारा जल विधुत सयंत्र लगाये हुए हैं जिससे विधुत का उत्पादन किया जाता हैं। 

    किलियूर जलप्रपात – 

    यह तमिलनाडु राज्य में किलियूर नदी पर है ।

    शिवसमुद्रम् जलप्रपात – 

    यह कर्नाटक राज्य में कावेरी नदी पर स्थित है। इस जलप्रपात की ऊँचाई 90 मीटर है।


    चूलिया जलप्रपात – 

    यह जलप्रपात मध्यप्रदेश के मंदसौर में चम्बल नदी पर स्थित है। इसकी ऊँचाई 18 मीटर है।

    वसुधारा जलप्रपात – 

    यह उत्तराखण्ड राज्य में अलकनंदा नदी पर स्थित है।

    पुनासा जलप्रपात – 

    यह राजस्थान में चंबल नदी पर स्थित है।

    भारत-के-प्रमुख-जलप्रपात
    भारत-के-प्रमुख-जलप्रपात

    गोकक जलप्रपात – 

    यह कर्नाटक राज्य के बेलगाँव जिले में गोकक नदी पर स्थित है। इस जलप्रपात की ऊँचाई लगभग 54 मीटर है।

    धुआंधार जलप्रपात 

    – यह मध्यप्रदेश में जबलपुर के निकट नर्मदा नदी पर स्थित है। इसकी ऊँचाई 15 मीटर है।

    चचाई जलप्रपात – 

    यह जलप्रपात मध्यप्रदेश के रीवा जिले में बीहड़ नदी में स्थित है । इसकी ऊँचाई लगभग 130 मीटर है.

    बिहार जलप्रपात – 

    यह टोंस नदी पर स्थित है तथा इसकी ऊँचाई लगभग 100 मीटर है।

    दूधसागर जलप्रपात – 

    यह जलप्रपात गोवा तथा कर्नाटक राज्य की सीमा पर मांडवी नदी पर स्थित है। इसकी ऊँचाई लगभग 310 मीटर है।

    मधार जलप्रपात – 

    यह जलप्रपात चंबल नदी पर स्थित है।


    पायकारा जलप्रपात – 

    यह जलप्रपात तमिलनाडु राज्य में नीलगिरि की पहाड़ियों में स्थित है। इस जलप्रपात का प्रयोग जल विद्युत उत्पादन के लिए किया जाता है।

    हुण्डरू जलप्रपात – 

    यह जलप्रपात झारखंड राज्य में स्वर्णरेखा नदी के किनारे स्थित है। इसकी ऊँचाई लगभग 74 मीटर है।

    कुचिकल जलप्रपात – 

    कुंचिकल झरना भारत का सबसे ऊँचा झरना (Waterfalls) है जिसकी ऊंचाई 455 मीटर है । कुंचिकल झरना कर्नाटक राज्य के उडुपी-शिमोगा जिले की सीमा पर वराही नदी पर स्थित है|

    भारत का सबसे ऊंचा जलप्रपात कोनसा हैं ?

    जोग जलप्रपात भारत का सबसे ऊंचा जलप्रपात हैं। इसका अन्य नाम गेरसप्पा जलप्रपात भी हैं। यह भारत का सबसे ऊँचा जलप्रपात है जो कि कर्नाटक राज्य में शरवती नदी पर स्थित है । इस जलप्रपात की ऊँचाई 255 मीटर है।  


    Conclusion:- 

    हमने पूरी लगन तथा मेहनत से ऊपर दिए गए भारत के प्रमुख जलप्रपात के बारें में जानकारी को आपके लिए एकत्रित किया हैं।  यदि आपको हमारे द्वारा की गई मेहनत अच्छी लगी हो तो इसको अधिक से अधिक विधार्थियो तक पहुंचाए जिससे सभी की मदद हो सके। तथा सभी एक अच्छी सरकारी नौकरी प्राप्त कर सके। 

    आप हमें Social Media पर भी follow कर सकते हैं। 

    Stay Tuned For More.

    आपके विचार हमें कमेंट करके अवश्य बताए। और यदि किसी सवाल में कुछ त्रुटि हैं या किसी प्रकार की संका हैं तो भी हमें कमेंट करके बताए।